चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani

By Shweta Soni

Published on:

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

दोस्तों आज मै एक मजेदार कहानी बताने वाली हु चिंटू की बीवी चुड़ैल जिसे पढ़ कर आप लोगो को अच्छा लगेगा मै आप लोग के लिए ऐसी कहानी लाते रहती हु | ये कहानी चिंटू और उसकी बीवी लीला की है ,लीला एक चुड़ैल होती है चिंटू को पता नहीं होता की लीला एक चुड़ैल है। एक बार ये कहानी आप लोग जरूर पढ़े ।

चिंटू की लव स्टोरी

एक गांव में एक लालची औरत अपने पति के साथ रहती थी। उसका एक बेटा था जिसका नाम चिंटू था। वह कोई काम धाम नहीं करता था ,बस पूरा दिन इधर उधर घूमता रहता था। चिंटू लीला को ओ राम प्यारी कर के पुकारता है। लीला गुस्से से बोलती है एक बार और राम प्यारी कर के बोले न तो एक लगाउंगी चुप चाप यहाँ से चला जा नहीं तो मुझसा बुरा कोई नहीं होगा।

चिंटू अरे लीला तुम गुस्सा क्यों होती हो तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो मै तुमसे शादी करना चाहता हु। लीला मुझसे शादी करने छोड़ और निकल यह से बड़ा आया शादी करने वाला फिर इतना बोल कर लीला वह से चली जाती है। तभी चिंटू का दोस्त वह से जुजर रहा होता है उसका दोस्त बोलता है अरे चिंटू भाई ये लीला तुमसे क्या बोल रही थी। ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

चिंटू अरे भाई कुछ नहीं अपने प्यार का इजहार कर रही थी। चिंटू का दोस्त लेकिन चिंटू भाई उसके आओ भाव से तो कुछ और ही लग रहा था चिंटू भाई मेरी मनो तो तुम लीला से दूर ही रहा करो। गांव वाले बोलते है इस लीला के ऊपर एक चुड़ैल का साया है ये रात को अकेले में घूमती है कुछ लोगो ने तो इसके उल्टे पैर भी देखे है उल्टे पैर चुड़ैल की निशानी होती है।

चिंटू चल पागल दिमाग ख़राब हो गया है इतनी सुन्दर लड़की को चुड़ैल बोलता है। लीला कोई चुड़ैल उड़ेल नहीं है मै तो उसी से शादी करूँगा फिर इतना बोल कर वो अपने घर के और चल देता है। चिंटू घर जा कर माँ माँ मेरी अब शादी की उम्र हो गई है सुन्दर सी लड़की से शादी करवा दो ना , चितु के पिता जी हं हं क्यों नहीं अगर राजा बेटा का कुछ और भी अरमान है।

तो वो भी बता दो दीजिये आप के सरे अरमान एक साथ पुरे करवा देंगे काम थाम तो कुछ करना नहीं है।तेरी उम्र के सरे लड़के कुछ न कुछ काम कर रहे है और एक तू है जो सारा टाइम घूमता रहता है और मुक्त की रोटियां तोड़ता रहता है। बला तुझ जैसे लड़के को अपनी लड़की क्यों देगा। ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

पहले कोई काम धाम कर के कुछ पैसे वैसे कमा के देखो फिर शादी के सपने देखना चल भाग यह से आवारा कही का किसी काम धाम का नहीं है। चिंटू अपने माँ से बोलता है देखो न माँ पापा हमेशा मेरी बेज्जती करते रहते है किसी दिन मै घर छोड़ कर ही चला जाऊंगा। तभी चिंटू की माँ बोलती है अरे नहीं नहीं बेटा तुम कैसी बात कर रहे हो |

ये सब तुम्हारा ही तो है आ जी आप तो रहने ही दो हर वक्त मेरे भोले भले बेटे को निचा देखते रहते हो। जी हमारे पास इतने धन दौलत है क्या ये सब आप अपने साथ ऊपर लेके जाओगे भला मेरे बेटे को कमाने के लिए क्या जरूरत है। तभी चिंटू बोलता है माँ माँ मुझे लीला बहुत पसंद है तुम मेरा रिश्ता लेके जाओ न।

चिंटू की माँ ठीक है ठीक है।मै कल ही सुबह लीला के माता पिता से रिश्ते की बात करने जाउंगी फिर अलगे दिन चिंटू की माँ लीला के घर रिश्ता लेकर जाती है और उन्हें अपने पैसे का रुबाब देखती है। लीला के पिता जी बोलते है देखिये बेहेन जी आप लोग बहुत आमिर लोग है हम गरीब हमारे पास कुछ नहीं है आप लोगो को देने के लिए। ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani
चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani

चिंटू की शादी

चिंटू की माँ बोलती है तुम्हारी किस्मत बहुत अच्छी है की तुम्हारी लड़की की शादी मेरे बेटे से हो रही है तुम लीला की शादी मेरे बेटे से करवा दो मुझे तुमसे कुछ नहीं चाहिए। इतना बोल कर वो अपने घर की और चल दे ,अगले दिन चिंटू और लीला की शादी हो जाती है।

चिंटू लीला से शादी कर के फुला नहीं समता है रात रोने पर चिंटू और लीला अपने कमरे में सोते रहते है। तभी लीला उठती है और सीधा घर से बहार निकल जाती है और जांगले की और चली जाती है।चिंटू के दोस्त को लीला के ऊपर पहले से ही शक होता है इसलिए वहां उस पर पहले से ही नजर रखता है। ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

चिंटू के दोस्त अरे ये भाभी इतनी रात को कहा जा रही है मुझे इनके पीछे जाना चाहिए। तभी चलते चलते लीला के पैर उल्टे हो जाते है। चिंटू डरते हुए बोलता है अरे मर गया इसके पैर तो उल्टे हो गए मेरा शक सही निकला। यह तो चुड़ैल निकली देखते ही देखते लीला एक चुड़ैल में बदल जाती है और गुफा में चली जाती है।

चिंटू के दोस्त का आंखे फटी की फटी रह जाती है वह भी उसके पीछे पीछे गुफा के अंदर घुश जाता है। चुड़ैल अंदर में अपने चुड़ैल की रानी का पूजा करती है और बोलती है मै आप को नो लोगो की बलि चढ़ा चुकी हु एक और बलि चढ़ने के बाद मै स्वरशक्तिमान बन जाउंगी फिर मै यह शक्तियों से पूरी दुनिया पर राज करुँगी।

चिंटू का दोस्त सोचता है की मुझे जा कर चिंटू को सारी बात बतानी चाहिए। चिंटू का दोस्त भागते हुए चिंटू के घर जाता है और खिड़की से आवाज देता है चिंटू भाई चिंटू भाई उठो मुझे बहुत जरुरी बात बतानी है जल्दी उठो भाई। चिंटू अरे भाई क्या हुआ इतनी रात तुम यह क्या कर रहे हो। ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

चिंटू का दोस्त अरे भाई मैंने पहले ही कहा था की तुम्हारी बीवी एक चुड़ैल है लेकिन तुमने मेरी बात पे यकीं नहीं किया था। चिंटू अरे भाई मुझे लगता है की तुम्हारा दिमाग ख़राब हो गया है। जो ये भकी भकी बात कर रहे हो। चिंटू का दोस्त बोलता है अच्छा ये बताओ की लीला भाभी घर पर है।

इतने में वहां पास लीला आ जाती है और बोलती है क्या हुआ भैया इतनी रात को कैसे आना हुआ। चिंटू का दोस्त लीला को घर में देख कर हाका बका रहे जाता है और बोलता है अरे कुछ नहीं भाभी जी मै तो बस यह से गुजर रहा था। तो सोचा की चिंटू से मिलता चालू अच्छा मै अब चलता हुआ इतना बोल कर वह से भागते भागता है।

लीला पूछती है चिंटू से ये जी ये आप का दोस्त आप से क्या बोल रहा था। चितु अरे वो बेकार की बात कर रहा था चलो अब तुम सो जाओ रात बहुत हो गई है। सुबह होते ही सेठानी गुस्से से लाल हो जाती है क्यों की लीला अभी तक सो रही होती है। ये बहु रानी अभी तक सो रही है क्या घर का काम कौन करेगा चल जल्दी से उठ मैंने काम वाली की छुट्टी कर दी है।

आज से घर का सारा काम तुझे ही करना है। सेठानी के जोर जोर से चिलने की वजह से लीला की नींद खुल जाती है और वहाँ गुस्से से लाल हो जाती है। रुक बुढ़िया मै तुझे अभी बताती हु लीला गुस्से से बहार आती है और बोलती है। ये बुढ़िया क्यों चिल्ला रही हो सुबह से मेरी साडी नींद ही खराब कर दी। ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani
चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani

चुड़ैल रूप

सेठानी अरे दिया रे दिया इसकी हिम्मत तो देखो मुझे बुढ़िया भुला रही है। ये तेरी इतनी हिम्मत मुझे बुढ़िया बोलेगी चुप चाप घर का ये सारा काम पूरा कर दे। वैसे भी तेरे माँ बाप दहेज़ में एक फूटी कोड़ी भी नहीं दी है। लीला मै कोई काम वाम नहीं करने वाली जो करना है कर लो ,सेठानी तेरी इतनी हिम्मत मुझे मना करेगी रुक तुझे अभी बताई हु।

लीला सेठानी को मरने लगती है सेठानी अरे मर गई रे तेरी इतनी हिम्मत मुझे अभी के अभी छोड़ दे चिंटू ओ चिंटू देख तेरी बीवी को मेरे साथ क्या कर रही है। चिंटू रे जल्दी आ नहीं तो ये हरे बाल नोच डालेगी ,फिर अपने माँ की आवाज सुन कर चिंटू भगा भाग कमरे से निकल कर वहाँ पहुंच जाता है। वो ये सब देख कर हैरान रहे जाता है ,

चिंटू अरे लीला तेरी इतनी हिम्मत तू मेरी माँ के साथ ऐसा सुलूक करेगी अभी के अभी मेरी माँ को छोड़ दे वरना अच्छा नहीं होगा। लीला उसे छोड़ देती है और चुप चाप अपने कमरे में चली जाती है। चिंटू अपने माँ से पूछता है आप ठीक तो हो न आप को कुछ हुआ तो नहीं ना, सेठानी चिंटू से ठीक हु | ( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

बेटा बस इसे थोड़ा सा घर का काम करने को कहा था और इसने मेरी पिटाई ही कर दी। चिंटू पेरशान हो कर बहार निकल जाता है वहाँ उसे उसका दोस्त मिलता है। चिंटू का दोस्त अरे क्या हुआ भाई इतने पेरशान क्यों हो क्यों तुम्हे पता चल गया की तुम्हारी बीवी चुड़ैल है। चिंटू मजाक मत करो यर तू मै वैसे ही बहुत पेरशान हु।

आज सुबह सुबह लीला ने हद ही कर दी उसने आज माँ के बाल पकड़ कर उनसे बहुत बतमीजी की ,चिंटू का दोस्त भाई मैंने तो पहले ही बोला था की लीला लड़की नहीं है उसके ऊपर चुड़ैल का साया है एक बहुत आसान रास्ता है तुम उस चुड़ैल के सामने एक मिरर रख दोगे तो तुम्हे उसकी आशिलियत सामने आ जाएगी।

चिंटू ठीक है भाई मै ऐसी करता हु बोल कर दोनों वहां से चले जाते है।चिंटू रात को लीला के लिए फूलो का गजरा लेकर घर पहुंच जाता है। चिंटू अरे भगवन कहा हो तुम देखो तो मै तुम्हारे लिए क्या लाया हु। लीला वहां पास आते है और गजरा देख कर बहुत खुश हो जाती है फिर वो गजरा लगा कर मिरर के पास पहुंच जाती है।

चिंटू भी उसके पीछे पीछे पहुंच जाता है। लीला जैसे ही अपने आप को मिरर में देखती है।उसकी असलियत उसमे देखे देने लगती है। चिंटू ये देख कर चिंटू की आँखे फटी की फटी रहे जाती है वह उस चुड़ैल को देख कर बहुत डर जाता है। ये भगवन मै किस मुसीबत में पड़ गया ये तो सच में चुड़ैल निकली।( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

लीला चुड़ैल रूप में रहते हुए बोलती है अच्छा हुआ तुम्हे मेरी असलियत का पता चल गया। मै आज रात को तेरी ही बलि देने वाली थी। चिंटू डर कर भागता है और चिलता है बचाओ मुझे इस चुड़ैल से बचाओ । चिंटू घर से बोलते हुए निकलता है भाई मुझे बचाओ मेरे बीवी सच में चुड़ैल निकली मै तो मर गया रे भाई बचाओ ,

भागता भागता अपने दोस्त के घर पहुंच जाता है और बोलता है भाई जल्दी से दरवाजा बंद कर दो तुम सही कहते थे लीला तो सही में एक चुड़ैल है। मैंने उसकी असलीयत मिरर में देख ली है अब वो मुझे नहीं छोड़ेगी। चिंटू की दोस्त की बीवी बोलती है ये जी ये आप का दोस्त अपने साथ साथ हमे भी मरवा के छोड़ेगा।

तुम अभी के अभी इसे घर से निकलो नहीं तो इसकी बीवी पीछा करते करते यहां पहुंच जाएगी। तभी जोर जोर से दरवाजा खटकाने की आवाज आने लगती है वे सब लोग डर जाते है। तभी उसके दोस्त की बीवी बोलती है अरे दिया रे दिया लगता है इसकी बीवी पीछा करते करते यहां पहुंच गई।

चिंटू अपने दोस्त से बोलता है भाई तुम गलती से भी दरवाजा मत खोलना नहीं तो वो चुड़ैल हम में से किसी को जिन्दा नहीं छोड़ेगी।तभी चिंटू का दोस्त बोलता है अरे भाई भाभी तो चुड़ैल बन कर खड़ी है दरवाजे में अब क्या करे। उसके दोस्त की बीवी बोलती है मै तो कहती हु ये चिंटू को उठा कर बहार फेक दो घर के वो चुड़ैल चिंटू के लिए आई है।

इसे तो शोक चढ़ा था न सुंदर लड़की से शादी करने का तो करने दो ,निकलो मेरे घर से तुम मेरे घर से चलो चलो तुम अभी निकलो।तभी चिंटू रोने लगता है और बोलता है नहीं नहीं मै नहीं जाने वाला मै अकेले क्यों मरू ,तुमने मेरा साथ नहीं दिया तो तुम्हे भी साथ ले कर मरूंगा। चिंटू की दोस्त की बीवी बोलती है अरे दिया हमे भी साथ मरवा के छोड़ेगा जी आप ही कुछ करिये ना ,

चिंटू भाई मेरे घर में छोटे छोटे बच्चे भी है अगर यह चुड़ैल घर में घुस गई तो हमारे साथ हमारे बच्चे को भी नहीं छोड़ेगी। कृपा कर चिंटू भाई तुम घर से निकल जाओ। चिंटू ठीक है भाई मै अपनी वजह से तुम्हारे बच्चो की जान खतरे में नहीं दाल सकता ।मै अभी इस घर से चले जाता हु। चिंटू के दोस्त की बीवी बहुत खुश होती है और बोलती है चलो काम से काम इससे जान तो छूटी।

चिंटू का दोस्त बोलता है अरे भाई रुको अगर मरना ही है तो मै भी तुम्हारे साथ मरूंगा ,चिंटू का दोस्त अपनी बीवी से बोलता है। तुम बच्चो के पास चली जाओ मै अपने दोस्त को यु अकेला नहीं छोड़ सकता हु मुझे अपनी दोस्ती निभानी होगी।चिंटू का दोस्त की बीवी अपने पति से बोलती है आ जी आप पागल हो गए हो क्या ये चुड़ैल आप की जान ले लेगी |( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

आप ये चिंटू की वजह से आप क्यों मौत को गले लगाना चाहते हो। तभी चिंटू का दोस्त बोलता है हम मै अपने दोस्त का साथ दूंगा।ये दुनिया कभी भी किसी की दोस्ती पर विश्वास नहीं करेगा अगर अपनी दोस्ती साबित करने के लिए मुझे जान भी देनी पड़ी तो मै दे दूंगा चिंटू भाई मै भी तुम्हारे साथ जाऊंगा।

चिंटू भाई धन्यवाद हमारी दोस्त पर कोई शक नहीं करेगा लेकिन तुम मेरे वजह से अपनी जान मत दो हम दोनों मिल कर भी ये चुड़ैल का सामना नहीं कर पाएंगे हमारा मारा निश्चित है। चिंटू का दोस्त है यहां सही बात है हम दोनों का मरना निश्चित है पर मै जनता हु |

ये चुड़ैल उसके सामने पल बार नहीं टिक पायेगी मै आता हु बोल कर चिंटू का दोस्त भाग कर घर में बने मंदिर की और जाता है।ये महा बलि हनुमान हम आप के बिना ये चुड़ैल का सामना नहीं कर सकते आज फिर से एक बार बुराई को हारने के लिए आप की जरूरत है।

कृपा कर हमारे साथ चलिए ये हमारे महा बलि अब इस चुड़ैल को मजा चघाने का टाइम आ चूका है चिंटू और उसका दोस्त महा बलि हनुमान जी को अपने साथ लेके जाता है उस चुड़ैल के पास जाते है। चुड़ैल अरे वाह वाह एक से बाले दो , चिंटू का दोस्त बोलता है हम दो नहीं तीन है।( चिंटू की बीवी चुड़ैल ) | chudail ki kahani

चिंटू महा बलि हनुमान जी की जय चिंटू और उसका दोस्त दोनों हनुमान चालीसा पढ़ने लगते है। तभी चुड़ैल का शरीर जलने लगता है। चुड़ैल वही पास जल कर मर जाती है।

चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani
चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani

दोस्तों मै श्वेता उम्मीद करती हु की आप लोगो को मेरी कहानी चिंटू की बीवी चुड़ैल की कहानी अच्छी लगी हो | अगर अच्छी लगी हो तो प्ल्ज़ कमेंट कर के जरूर बताये | ऐसी सच्ची स्टोरी आप लोग के लिए लाते रहेंगे।

Read more :-चुड़ैल के कब्र में खजाना | chudail ki kahani

For More Horror Stories : Visit bhootkikahani.in

HI i am Shweta Soni

1 thought on “चिंटू की बीवी चुड़ैल | chudail ki kahani”

Leave a Comment